ललितपुर

अपने मत का प्रयोग करना प्रत्येक मतदाता का कर्तव्य : एडीएम

ललितपुर। मतदाता जागरुकता अभियान के अनतर्गत नगर क्षेत्र ललितपुर में स्थित  जूनियर हाई स्कूल गांधी नगर नई बस्ती में अपर जिलाधिकारी अनिल कुमार मिश्र के मुख्य आतिथ्य एवं उप जिलाधिकारी सदर सुश्री गजल भारद्वाज के विशिष्ट आतिथ्य में मतदाता जागरुकता संगोष्ठी एवं डोर-टू-डोर कैम्पेन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सर्वप्रथम विद्यालय के प्रबंधक द्वारा समस्त अतिथियों का स्वागत किया गया। इसके उपरान्त जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा शिक्षा विभाग चलाये जा रहे डोर-टू-डोर कैम्पेन के बारे में बताया कि बच्चें अपने शिक्षकों के नेतृत्व में घर घर जाकर मतदाताओं को जागरुक कर रहे हैं। विद्यालय के बच्चों द्वारा मतदान जागरुकता के लिए एक नाटक की प्रस्तुति दी गई। शुभारम्भ के अवसर पर बोलते हुए अपर जिलाधिकारी ने मतदाताओं से 29 अप्रैल 2019 को होने वाले निर्वाचन में अपने मताधिकार का प्रयोग करने की अपील की। उन्होंने कहा कि लोकतन्त्र के इस महापर्व में आप अपनी हिस्सेदारी बढ़चढ़ कर निभायें। उप जिलाधिकारी, ललितपुर ने अपने उद्बोधन में कहा कि प्रत्येक मतदाता का दायित्व है कि वह अपने मताधिकार का प्रयोग करे। दिनांक 29 अप्रैल 2019 को अपने-अपने मत का प्रयोग कर अपने प्रतिनिधि को चुनें। आपका मत अत्यन्त महत्वपूर्ण है। अत: इसका प्रयोग अवश्य करें। सभी बच्चे अपने दादा, दादी, पापा, मम्मी, चाचा, चाची, नाना, नानी सभी से कहें कि वे अपना वोट जरुर डालें। इस अवसर पर सभी आगन्तुक अतिथियों अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद, जिला विद्यालय निरीक्षक एवं प्रधानाचार्या राबाइका ने भी अपने-अपने विचार प्रकट किये। कार्यक्रम में बेसिक शिक्षा विभाग में कार्यरत शीलचन्द्र जैन ने अपनी कविता डीएम साब की कई नैं बिसारियों सबसे पैलहुं वोट डारियो द्वारा मतदनान जागरुकता हेतु कविता पाठ कर उपस्थित जनसमूह को मतदान के लिए प्रेरित किया। कार्यक्रम में जैन शिक्षक सामाजिक समूह द्वारा सेल्फी प्वाइन्ट बनाया गया, जहां मतदाताओं को सेल्फी खिचवाते हुए मतदान के प्रति जागरुक किया गया। क्रमोत्तर कन्या जूनियर हाई स्कूल की छात्राओं द्वारा भी कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया। अन्त में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने सभी आगन्तुक अतिथियों एवं मतदाताओं का आभार व्यक्त किया गया। इस अवसर पर डीआईओएस रामशंकर, ईओ नगर पालिका परिषद, प्रधानाचार्या जीजीआईसी, विद्यालयों के शिक्षक व छात्र-छात्राएं उपस्थित रहीं।