अन्य खबर

कांग्रेस के हुए शॉटगन, कहा- स्थापना दिवस पर पार्टी छोड़ने से हुआ भारी मन

नई दिल्ली। अभिनेता से नेता बने शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने पार्टी के स्थापना दिवस के दिए ही भाजपा छोड़ने की घोषणा कर दी है। शनिवार को आयोजित प्रेस वार्ता में सिन्हा ने कहा कि उन्होंने कांग्रेस के साथ जाने का फैसला इसलिए किया है क्योंकि यह ‘सही मायने’ में एक राष्ट्रीय पार्टी है। मौजूदा कुछ नेताओं के चलते पार्टी छोड़ने पर मजबूर होने का आरोप लगाते हुए सिन्हा ने कांग्रेस को देश के निर्माता गांधी, नेहरु औऱ पटेल की पार्टी बताया।  बिहार कांग्रेस प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल , कार्यकारी अध्यक्ष अखिलेश सिंह की मौजूदगी में शत्रुघ्न सिन्हा ने कांग्रेस में जाने की घोषणा की।

शत्रुघ्न सिन्हा ने राहुल गांधी की बातों से सहमति जताते हुए कहा नोटबंदी देश का सबसे बड़ा घोटाला है। उन्होंने कहा कि यशवंत सिन्हा को पार्टी छोड़ने पर मजबूर किया गया। भाजपा के मौजूदा कुछ नेता आरोप लगाते रहे कि मंत्री नहीं बनाया गया तो बगावत कर रहे हैं लेकेिन सच कहना अगर बगावत है तो समझो हम भी बागी है। कांग्रेस देश की गैंड औल्ड पार्टी हैं ही लेकिन सबसे बड़ी बात की देश को स्वतंत्र करने में सबसे बड़ा योगदान किसी का रहा है तो कांग्रेस का रहा है। भाजपा को तो अपने नेताओं की परवाह नहीं। राहुल गांधी राष्ट्र का भविष्य हैं।