बुन्देलखण्ड ललितपुर

तालाब का मिलेगा पुनर्जीवन, डीएम ने किया विधिवत उदघाटन

ललितपुर। जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में ग्राम पंचायत सौंरई में परम्परागत तालाब पुनर्जीवन अभियान के अन्तर्गत रोहिणी नदी एवं तालाब पुनर्जीवन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। तालाब समिति के सदस्य हरीमोहन शर्मा ने बताया कि एक सामाजिक संस्था का कार्य सरकार की योजनाओं का प्रचार-प्रसार कर लोगों को जागरुक करना है। परम्परागत तालाब पुनर्जीवन अभियान के अन्तर्गत ग्राम गौना में 02, ग्राम बनयाना में 01, ग्राम सौंरई में 01 तथा ग्राम बडग़ाना में 01 जलपोशीय तालाब की खुदाई जिलाधिकारी के निर्देशानुसार एक एनजीओ द्वारा करायी जाएगी। कार्यक्रम में वासुदेव ने बताया कि ललितपुर एसिया का एकमात्र ऐसा जनपद है जहां सबसे अधिक बांध पाये जाते हैं। ललितपुर जनपद में सौंरई ग्राम एक आदर्श ग्राम है। यहां के जंगलों में चिरोंजी के वृक्ष पाये जाते हैं। इस क्षेत्र में जैविक खेती के द्वारा सब्जियां उगाई जाती हैं। यह क्षेत्र प्राकृतिक संसाधनों की दृष्टि से अत्यधिक उपयोगी है। गोष्ठी में खण्ड विकास अधिकारी मड़ावरा ने जिलाधिकारी की प्रसंशा में कहा कि जिलाधिकारी द्वारा जिस कार्य में रुचि ली जाती है, वह कार्य निश्चय ही फलीभूत होता है। जिस प्रकार जिलाधिकारी ने ओडी नदी को पुनर्जीवित किया है, उसी प्रकार रोहिणी नदी को भी पुनर्जीवित कराये जाने का कार्य किया जाएगा।