बुन्देलखण्ड ललितपुर

लोकतांत्रिक व्यवस्था बेहतर बनाने लोगों ने दिये वोट

ललितपुर। देश की सबसे बड़ी पंचायत के लिए आज जिले में अभेद सुरक्षा व्यवस्था के बीच सकुशल मतदान सम्पन्न हो गया है। शाम 5 बजे तक करीब 56 फीसदी से अधिक मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। कुछ मतदान केन्द्रों पर निर्धारित समय के बाद भी मतदाताओं की लाइन लगी हुई थीं। इससे मतदान प्रतिशत बढऩे की सम्भावना है। एक समय लग रहा था कि चिलचिलाती धूप की वजह से मतदान का प्रतिशत काफी कम रहेगा लेकिन जिले के मतदाताओं ने इसे धता बताते हुए अपरांह बाद जमकर मतदान किया। इधर सुरक्षा के कड़े इंतजामों के चलते मतदान के दौरान कहीं कोई हिंसक वारदात नहीं हुई और चुनाव पूरी शांतिपूर्वक सम्पन्न हुआ। कुल मिलाकर जिले में मतदान का प्रतिशत बढऩे से प्रशासन ने राहत की सांस ली है। जिले में लोकसभा चुनाव के लिए दोनों विधान सभा क्षेत्रों में सकुशल मतदान सम्पन्न कराने के लिए जिला प्रशासन द्वारा व्यापक चुनावी प्रबंध सुनिश्चित किये गये थे तथा सुरक्षा की कड़ी व्यूह रचना रची गयी थी जिसे भेद पाना किसी के लिए सम्भव नहीं था। आज सुबह 7 बजे से जिले की ललितपुर में मतदान प्रक्रिया शुरू हुई। मौसम में तलखी को देखते हुए शहरी क्षेत्र के मतदाता दैनिक क्रियाओं से निवृत्त होने के बाद तत्काल मतदान केन्द्रों पर वोट डालने के लिए पहुंच गये थे, लेकिन जैसे-जैसे गर्मी का प्रकोप बढ़ता चला गया वैसे-वैसे मतदान ठण्डा पडऩे लगा। सुबह 9 बजे के दरम्यान ललितपुर विधानसभा क्षेत्र में 12 प्रतिशत व महरौनी विधानसभा क्षेत्र में भी 12 प्रतिशत कुल 12 फीसदी ही वोट पड़े थे वहीं 11 बजे मतदान के प्रतिशत का आंकड़ा ललितपुर विधानसभा क्षेत्र में 28 प्रतिशत व महरौनी विधानसभा क्षेत्र में 30 कुल 29 फीसदी पहुंच गया था। अपराह्न 1 बजे यह आंकड़ा ललितपुर व महरौनी विधानसभा क्षेत्र में कुल 37.5 फीसदी तक पहँुचा और जैसे ही दोपहर के 3 बजे ललितपुर विधानसभा क्षेत्र में 52 प्रतिशत व महरौनी विधानसभा क्षेत्र में 55 प्रतिशत मतदान हो चुका था। शाम 5 बजे तक ललितपुर विधानसभा क्षेत्र में 57 एवं महरौनी विधानसभा क्षेत्र में 56 प्रतिशत मतदान हो चुका था। निर्धारित समय शाम 6 बजे के उपरान्त भी भारी संख्या में लोग मतदान करने के लिए मतदान केन्द्रों पर मौजूद थे।