ललितपुर

इक्कीस सदस्यीय समिति को ही मिला उर्स मेला कराने का अधिकार

ललितपुर। जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने हजरत बाबा सदनशाह की दरगाह पर प्रतिवर्ष लगने वाले 31 मार्च से 4 अप्रैल तक लगने वाले उर्स मेले के लिये उत्तर प्रदेश सुन्नी सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड द्वारा गठित 21 सदस्यीय समिति को ही आयोजन के लिये अधिकृत किया है। डीएम ने पूर्व में गठित की गई समिति को भंग कर दिया है। वहीं डीएम ने उप जिलाधिकारी सदर गजल भारद्वाज को निर्देशित किया है कि आवश्यकता पडऩे पर परामर्शदाता समिति का गठन कर ऐसे लोगों को शामिल कर सकती हैं, जिनके नाम 21 सदस्यीय समिति में पूर्व से न हों। बताते चलें कि उर्स मेला आयोजन के लिये 12 मार्च को जमीयतुल कुरैश के जनरल सेकेट्ररी अजीज कुरैशी व सदर हाजी बाबू बदरूददीन कुरैशी द्वारा मेले के आयोजन के बारे में अधिकार लेने की मांग की गई थी। वहीं अब्दुल नासिर मंसूरी व जाकिर राज चौहान ने उर्स मेले को वक्फ बोर्ड कमेटी द्वारा उर्स कराये जाने की मांग उठाई थी। उभयपक्षों के तथ्यों को सुनने एवं परीक्षण के बाद बाद डीएम ने विगत वर्ष नियंत्रण समिति गठित कर उर्स मेला सम्पन्न कराने एवं जिला शासकीय अधिवक्ता सिविल द्वारा परामर्श के पश्चात नियंत्रण समिति को भंग कर दिया है और आदेश जारी किया है कि उत्तर प्रदेश सुन्नी वक्फ बोर्ड द्वारा गठित 21 सदस्यीय समिति ही उर्स सम्पादित करायेगी। जिसमें अब्दुल नासिर मंसूरी, जाकिर राज चौहान, आजम बेग, गुलाम मुहम्मद गामा, अनीश बेग, हाजी अब्दुल कय्यूम, अबू हुसैन, मुस्तफा खान, इरशाद मंसूरी, मुहम्मद जलील, शब्बीर खान, मुहम्मद अनीश, करीम राईन पप्पू, इदरीश कुरैशी, मुहम्मद अख्तर, असलम कुरैशी, मुस्ताक खान, मुहम्मद नदीम, आजम बेग, बाकर अली, अब्दुल करीम अंसार शामिल है। जिलाधिकारी के आदेश के उपरांत उप जिलाधिकारी सदर ने मेले को कुशलता से आयोजित कराने के लिये 16 मार्च को दोपहर 3 बजे कलैक्ट्रेट सभागार में बैठक का आयोजन किया गया है। जिसमें वक्फ बोर्ड कमेटी के अलावा क्षेत्राधिकारी सदर, तहसीलदार सदर, सहायक अभियंता, विद्युत, जलसंस्थान, अग्निशमन अधिकारी एवं अधिशाषी अधिकारी, नगर पालिका को प्रतिभाग करने के लिये कहा है।