ललितपुर

प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक-एक अतिरिक्त वीडियो निगरानी टीम की तैनाती की जाये-प्रेक्षक

ललितपुर। भारत निर्वाचन आयोग,  के द्वारा लोक सभा सामान्य निर्वाचन-2019 में 46-संसदीय निर्वाचन क्षेत्र झांसी हेतु नियुक्त व्यय प्रेक्षक  पी0 कृष्ण राव (आई0आर0एस0) के द्वारा आज कलैक्ट्रेट सभागार ललितपुर में व्यय अनुवीक्षण टीमों के साथ समीक्षा बैठक आहूत की गई। बैठक में जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी,  मानवेन्द्र सिंह ने बताया कि जनपद ललितपुर एवं महरौनी 02 विधानसभाएं हैं। इस जनपद की कुल जनसंख्या 14,48,887 है, जिसमें से 6,88,607 पुरुष 7,60,280 महिलाएं हैं। जनपद में कुल 8,91,678 मतदाता है, जिनमें से 4,65,564 पुरुष मतदाता, 4,26,085 महिला मतदाता तथा 29 अन्य श्रेणी के मतदाता हैं। उन्होंने बताया कि जनपद में कुल 5756 दिव्यंाग मतदाता हैं, जिनमें से ललितपुर विधानसभा क्षेत्र में 2541 एवं महरौनी विधानसभा क्षेत्र में 3215 दिव्यंाग मतदाता हैं। व्यय प्रेक्षक ने प्रभारी अधिकारी निर्वाचन व्यय विष्णुकान्त द्विवेदी से व्यय अनुवीक्षण से सम्बंधित जानकारी प्राप्त की।  प्रेक्षक ने मीडिया मॉनीटरिंग एण्ड सर्टिफिकेशन कमेटी के सदस्य सचिव जिला सूचना अधिकारी से प्रिंट, इलैक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया की मॉनीटरिंग की स्थिति के सन्दर्भ में जानकारी प्राप्त की। जिला सूचना अधिकारी ने  व्यय प्रेक्षक को बताया कि जनपद से छपने वाले दैनिक, साप्ताहिक एवं पाक्षिक सभी प्रकार के समाचार पत्र जिला सूचना कार्यालय में उपलब्ध रहते हैं, जिनकी प्रतिदिन निगरानी की जा रही है। यदि उन समाचार पत्रों में किसी भी प्रकार के विज्ञापन प्रकाशित होंगे तो उसे तत्काल शासकीय दरों पर निर्धारित करते हुए व्यय अनुवीक्षण नोडल अधिकारी को सूचना उपलब्ध करायी जायेगी। यदि पेड न्यूज या फेक न्यूज का प्रकरण पाया जाता है तो  जिला निर्वाचन अधिकारी की तरफ से सम्बंधित को नोटिस तामील करायी जायेगी। जिला सूचना अधिकारी ने बताया कि इलैक्ट्रॉनिक मीडिया की निगरानी के लिए जिला सूचना कार्यालय में टी0वी0 सेट लगाया गया है, जिस पर जनपद में देखे जाने वाले प्रमुख समाचार चैनलों की निगरानी की जा रही है। इसी प्रकार सोशल मीडिया पर जनपद के प्रमुख मीडिया व्हाट्सएप ग्रुप्स एवं फेसबुक पेज पर भी निगरानी रखी जा रही है। यदि इनमें किसी भी प्रकार की आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन पाया जाता है तो उसकी तत्काल सूचना दी जायेगी। उन्होंने व्यय प्रेक्षक को बताया कि एम0सी0एम0सी0 की दैनिक बैठकें आयोजित की जा रही हैं। व्यय प्रेक्षक ने जिला सूचना अधिकारी को टी0वी0 सेटों की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिये। प्रेक्षक ने जिला निर्वाचन अधिकारी से अनुरोध किया कि जनपद में 226-ललितपुर तथा 227-महरौनी विधानसभा क्षेत्रों में एक-एक वीडियो निगरानी टीम की तैनाती की गई है। यह संख्या कम है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में एक-एक अतिरिक्त वीडियो निगरानी टीम की तैनाती की जाये। वीडियो निगरानी टीम द्वारा उपलब्ध करायी गयी रिकॉर्डिंग का देखने के लिए वीडियो अवलोकन टीम की नियुक्ति की गई है। 226- ललितपुर विधानसभा में अशोक कुमार साहू तथा 227-महरौनी विधानसभा क्षेत्र में  रामेन्द्र पटेल, सहायक अभियोजन अधिकारी की नियुक्ति की गई है।  स्थेटिक निगरानी टीम तथा उड़नदस्ता टीम के सदस्यों से उनके कार्य, दायित्वों की जानकारी प्राप्त की। उन्होंने स्थेटिक निगरानी टीम तथा उड़नदस्ता टीम के सदस्यों को निर्देशित किया कि वे अपने कार्य एवं दायित्वों को भलीभांति समझ लें और उनका सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश से लगी सीमा से गुजरने वाले मार्गों तथा रेलवे स्टेशन के नजदीकी मार्गों पर निगरानी रखी जाये। प्रत्येक वाहन को रुकवाकर उनकी व्यवस्थित चेंकिंग की जाये और यदि उसमें किसी प्रकार की ऐसी सामग्री अथवा धनराशि, शराब इत्यादि पायी जाती है तो अग्रिम कार्यवाही हेतु अधिकारियों को सुनिश्चित करने के साथ-साथ व्हाट्सएप के माध्यम से उन्हें भी सूचना दी जाये। उन्होंने स्थेटिक निगरानी टीम एवं उड़नदस्ता टीम को सख्त हिदायत दी कि किसी भी प्रकार उनकी अनुमति के बगैर किसी भी व्यक्ति के साथ अपनी लोकेशन शेयर न करें। उन्होंने अंत में कहा कि हम सभी का उद्देश्य स्वच्छ एवं निष्पक्ष चुनाव आयोजित कराना है। इस कार्य में किसी भी प्रकार की हीलाहवाली बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने उपस्थित सभी कर्मचारियों को निर्देशित किया कि वे दिये गए दायित्वों के सन्दर्भ में अवगत हो जायें। उन्होंने उप जिला निर्वाचन अधिकारी/अपर जिलाधिकारी को कहा कि व्यय अनुवीक्षण से सम्बंधित सभी अधिकारियों/कर्मचारियों की कार्यशाला  04.04.2019 को सायं 06ः00 बजे आयोजित करें, जिसमें प्रश्नोत्तर काल भी आयोजित किया जाये। बैठक में पुलिस अधीक्षक कैप्टन एम0एम0 बेग, अपर पुलिस अधीक्षक ए0के0 विजेता, समस्त उप जिलाधिकारी, समस्त क्षेत्राधिकारी तथा व्यय अनुवीक्षण से सम्बंधित सभी अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।