ललितपुर

माईक्रो आब्जर्वर्स मतदान प्रक्रिया पर रखें पैनी नजर-डॉ0श्रीमती रेनू

ललितपुर। आज सामान्य प्रेक्षक डॉ0 श्रीमती रेनू एस0 फुलिया, सामान्य प्रेक्षक, लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2019 तथा जिला निर्वाचन अधिकारी मानवेन्द्र सिंह की उपस्थिति में लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2019 में 226-ललितपुर तथा 227-महारौनी विधानसभ क्षेत्र में निर्वाचन कार्य के पर्यवेक्षण कार्य के लिए नियुक्त माइक्रो आब्जर्वर्स का प्रशिक्षण सत्र कलैक्ट्रेट सभागार ललितपुर में आयोजित किया गया। प्रशिक्षण सत्र में जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने सभी माइक्रो आब्जर्वर्स को निर्वाचन कार्य के दौरान उनके प्रदत्त दायित्वों से भलीभांति अवगत कराया। उन्होने कहा कि चूंकि माईक्रो आब्जर्वस का दायित्व सम्पूर्ण मतदान प्रक्रिया का प्रेक्षण करना है अत: यह आवश्यक है कि समस्त माईक्रो आब्जर्वस सम्पूर्ण मतदान प्रक्रिया से भलीभांति परिचित रहें। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि माईक्रो आब्जर्वर का दायित्व है कि वह सम्पूर्ण मतदान प्रक्रिया का बारीकी से निरीक्षण करें। माईक्रो आब्जर्वर के लिए आवश्यक है कि वह इस बात का निरीक्षण करे कि मतदेय स्थल पर भारत निर्वाचन आयोग के अनुदेशों का भलीभांति पालन हो रहा है अथवा नहीं। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि कुछ ऐसे बिंदु हैं जिन पर माईक्रो आब्जर्वर्स को विशेष नजर रखनी होगी, यथा मॉकपोल की प्रक्रिया, भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों के अनुसार निर्वाचकों की पहचान, अमिट स्याही लगाया जाना, मतदान की गोपनीयता आदि। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि प्रेक्षण के दौरान यदि माईक्रो आब्जर्वर को यह प्रतीत होता है कि किसी भी प्रकार से निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन हो रहा है तो संचार माध्यमों से इसकी तत्काल सूचना सामान्य प्रेक्षक को दी जाएगी। उन्होंने कहा कि माईक्रो आब्जर्वर सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया का प्रेक्षण कर रिपोर्ट तैयार करेंगे और उस रिपोर्ट लिफाफे में सामान्य प्रेक्षक को सौपेंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने माईक्रो आब्जर्वस को यह भी बताया कि मतदान केन्द्र पर कौन-कौन से व्यक्ति प्रवेश के लिए अधिकृत हैं। उन्होंने कहा कि मतदान अधिकारी, प्रत्येक अभ्यर्थी का निर्वाचन अभिकर्ता आयोग द्वारा नियुक्त पर्यवेक्षक, निर्वाचन कार्य से सम्बद्ध लोकसेवक, वेबकास्टिंग कर्मी तथा ऐसे दृष्टिहीन और दिव्यांग मतदाता जो बिना सहायता के चलफिर नहीं सकते, उनके साथ आने वाला एक व्यक्ति मतदान केन्द्र में प्रवेश पाने के लिए अधिकृत है। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री मानवेन्द्र सिंह ने माईक्रो आब्जर्वस को कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया पूर्ण होने के उपरान्त वे मतदान टोली के साथ ई0वी0एम0 जमा करने के स्थल पर आयेंगे और जब तक पीठासीन अधिकारी द्वारा ई0वी0 एम0 को जमा नहीं कर लिया जाता, तब तक वे वहां पर उपस्थित रहेंगे। प्रशिक्षण सत्र के दौरान प्रभारी अधिकारी प्रशिक्षण विद्यानाथ शुक्ल ने सूक्ष्म प्रेक्षकों को बताया कि प्रत्येक सूक्ष्म प्रेक्षक को 39 बिंदुओं की फीडबैक रिपोर्ट तैयार करके सामान्य प्रेक्षक को सौंपना अनिवार्य है। बैठक में पुलिस अधीक्षक कैप्टन एम0एम0बेग ने अवगत कराया कि क्रिटिकल एवं वल्नरेवल बूथों पर सेन्ट्रल पुलिस फोर्स के जवान तैनात रहेंगे, साथ ही प्रत्येक बूथ पर अन्य जनपदों से आये पुलिस के जवानों की तैनाती की जाएगी। उन्होंने सामान्य प्रेक्षक को आश्वस्त किया कि जनपद में भयमुक्त एवं सुचितापूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया सम्पादित करायी जाएगी। बैठक में उपस्थित सामान्य प्रेक्षक लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2019 डॉ0 श्रीमती रेनू एस0 फुलिया ने माईक्रो आब्जर्वस को बताया कि आपकी नियुक्ति माईक्रो आब्जर्वर के रुप मे हुई है परन्तु आप माई आब्जर्वर की तरह कार्य करिये। उन्होंने कहा कि आपका कार्य सिर्फ मतदान प्रक्रिया को आब्जर्व करना है और उसके सन्दर्भ में रिपोर्ट तैयार कर प्रस्तुत करना है। यदि आपको यह प्रतीत होता है कि किसी भी प्रकार से भारत निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का अनुपालन ठीक से नहीं हो रहा है तो आप तत्काल इसकी सूचना दूरभाष के माध्यम से उन्हें उपलब्ध करायेंगे। उन्होंने कहा कि हमें उम्मीद है कि जनपद ललितपुर में निर्वाचन की प्रक्रिया सुचितापूर्ण ढंग से पूरी की जाएगी। बैठक में पुलिस अधीक्षक एम0एम0 बेग, अपर जिलाधिकारी अनिल कुमार मिश्र, मुख्य विकास अधिकारी वी0पी0 पाण्डेय, उप जिलाधिकारी सदर गजल भारद्वाज, अपर उप जिलाधिकारी रमेश चन्द्र, जिला विकास अधिकारी विद्यानाथ शुक्ल, उपायुक्त स्वत: रोजगार इन्द्रमणि त्रिपाठी सहित समस्त माईक्रो आब्जर्वस एवं मास्टर टेऊनर्स उपस्थित रहे।