बुन्देलखण्ड ललितपुर

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजना की समन्वय समिति की बैठक संपन्न

ललितपुर। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीवका मिशन योजनान्तर्गत गठित जिला परियोजना समन्वय समिति की बैठक जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में सभाकक्ष, जिलाधिकारी कार्यालय में आयोजित की गई। बैठक में सर्वप्रथम उपायुक्त, स्वत: रोजगार के द्वारा बैठक में सभी का स्वागत करते हुए उदेदश्यों पर प्रकाश डाला गया। तदोपरांत उनके द्वारा वित्तीय वर्ष 2018-19 में जनपद की स्वयं सहायता समूह के गठन, रिवॉल्विंग फण्ड, सामुदायिक निवेश निधि, ग्राम संगठन के गठन, बैंक क्रेडिट लिंकेज आदि की उपलब्धि की जानकारी दी गई है। साथ ही उनके द्वारा वित्तीय वर्ष 2019-20 में माह अप्रैल 2019 तक के लक्ष्य के सापेक्ष विकास खंड वार उपलब्धि की जानकारी दी गई। जिलाधिकारी महोदय के द्वारा सभी खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित किया गया कि स्वयं सहायता समहों का गठन, रिवॉल्विंग फण्ड, ग्राम संगठन के गठन, सामुदायिक निवेश निधि आदि के लक्ष्यों को शत प्रतिशत प्राप्त की जाये। जिला मिशन प्रबंधक रवि दुबे के द्वारा ग्राम संगठन एवं संकुल स्तरीय संघ के संबंध में जानकारी दी गई। उनके द्वारा बताया गया कि अभी तक विकास खण्ड जखौरा एवं तालबेहट में एक-एक संकुल स्तरीय संघ का गठन किया गया है। इंटेसिव विकास खण्ड जखौरा, तालबेहट एवं बिरधा को चार-चार कलस्टर में विभाजित कर कार्य किया जा रहा है। उपायुक्त स्वत: रोजगार के द्वारा बताया गया कि वर्तमान वित्तीय वर्ष में विकास खण्ड बार, महरौनी एवं मडावरा को भी इंटेसिव विकास खण्ड के रुप में चयनित किया जा चुका है। इन विकास खण्डों में जनपद की आंतरिक सामुदायिक संदर्भ व्यक्ति के माध्यम से स्वयं सहायता समूह का गठन एवं प्रशिक्षण कराया जायेगा। वित्तीय वर्ष 2019-20 में स्वयं सहायता समूहों के बैंक क्रेडिट लिंकेज की उपलब्धि में शत प्रतिशत उपलब्धि हेतु जिलाधिकारी महोदय के द्वारा उपायुक्त स्वत: रोजगार एवं अग्रणी जिला प्रबंधक को निर्देशित किया गया कि स्वयं सहायता समूहों के बचत खाता एवं बैंक लिंकेज हेतु लंबित पत्रावलियों का निस्तारण समन्वय से करायें।