भोपाल मध्य प्रदेश

कमलनाथ 17 को लेंगे सीएम पद की शपथ

कांग्रेस की अगुवाई वाली पिछली सरकारों में केंद्रीय मंत्री रहे कमलनाथ मध्य प्रदेश में कांग्रेस द्वारा सत्तारुढ़ भाजपा के खिलाफ जीत दर्ज करने के समय से ही मुख्यमंत्री पद के शीर्ष दावेदार थे। राज्य में पिछले 15 साल से भाजपा सत्ता में थी।पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मुख्यमंत्री पद की दौड़ में थे।

कल कांग्रेस विधायक दल ने प्रस्ताव पारित कर अपना नेता चुनने के अधिकार राहुल गांधी को सौंप दिए थे। इस मौके पर मध्य प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ, प्रदेश कांग्रेस चुनाव प्रचार अभियान समिति के प्रमुख ज्योतिरादितय सिंधिया, वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह और अरुण यादव भी उपस्थित थे। कमलनाथ ने इस अवसर पर कहा कि वह मध्य प्रदेश के मतदाताओं के आभारी हैं जिन्होंने मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनाने के लिए अपना समर्थन दिया। उन्होंने कहा, ‘मेरा विश्वास है कि मध्य प्रदेश का भविष्य कांग्रेस के हाथों में सुरक्षित रहेगा। हम अपने वचन पत्र को पूरा करेंगे और जनता की उम्मीदों पर खरे उतरेंगे।’