बुन्देलखण्ड ललितपुर

चार अज्ञात लोगों ने मिलकर किसान को बनाया निशाना

ललितपुर। बुन्देलखण्ड में भयावह सूखा पडऩे के कारण कई वर्षों तक किसान दाने-दाने को मोहताज हो गया था। किसान पर पड़े आर्थिक संकट से अन्य बाजार भी गड़बड़ा गये थे। लेकिन इस बार किसानों को फसल के लिए पानी की पर्याप्त उपलब्धता ने फिर से खुशहाल कर दिया है। लेकिन किसान को अब प्रकृति से नहीं बल्कि बदमाशों से अधिक डर है। चंद रुपये बचाने के चक्कर में ठगी का शिकार हुये किसान ने अब न्याय पाने की उम्मीद से पुलिस अधीक्षक को एक शिकायती पत्र भेजा है। दरअसल थाना नाराहट क्षेत्र के ग्राम बगोनी निवासी शिशुपाल सिंह पुत्र देवीसिंह शनिवार को अपनी पिकअप गाड़ी में ड्रम लाद कर ललितपुर डीजल लेने के लिए आये हुये थे। उन्होंने बताया कि वह गल्ला मण्डी में रुके हुये थे। तभी दो अज्ञात व्यक्ति आये और उन्होंने पूछा कि क्या वह डीजल लेने आये हुये हैं। इस पर किसान द्वारा बताया गया कि उन्हें सिंचाई के लिए डीजल की आवश्यकता है, जो कि वह कुछ समय पश्चात किसी पेट्रोल पम्प से खरीद लेंगे। शिशुपाल सिंह ने बताया कि उक्त लोगों ने कहा कि उनके पास डीजल है और वह उस डीजल को रुपयों की आवश्यकता के चलते बेचना चाहते है। शिशुपाल का आरोप है कि उक्त लोगों ने पेट्रोल पम्प से दो रुपये कम में उक्त डीजल बेचने की बात कही, जिस पर उन्होंने कुछ रुपये बचाने के एवज में डीजल खरीदने के लिए कह दिया। शिशुपाल के अनुसार दो लोगों में एक युवक उसके पास रुका, जबकि दूसरे व्यक्ति ने अपने दो अन्य सहायकों को भी बुलाकर ड्रमों को साथ लेकर डीजल भरवाने के लिए चले गये। अपने कहे अनुसार उक्त लोगों ने इलाईट क्षेत्र पर शिशुपाल के साथी को रोक लिया और अन्यत्र स्थान से डीजल भरवाने चले गये।