ललितपुर

ललितपुर जनपद में 72.38 प्रतिशत रहा मतदान जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह की मेहनत हुई सफल

ललितपुर। जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 में अधिक से अधिक मतदान कराये जाने को लेकर कहीं महीने पहले से तैयारियां शुरू कर दी थीं। जिला प्रशासन व पुलिस की संयुक्त पहल पर मतदाताओं में जागरूकता का अभूतपूर्व संचार हुआ। मतदाताओं ने कड़ी धूप होने के बावजूद भी जमकर मतदान किया। डीएम की पहल पर इस बार कई मतदान केन्द्र पर दिव्यांगों को आईकॉन बनाया गया था। नतीजा यही रहा कि वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव शान्तिपूर्ण तरीके से सौहार्दपूर्ण वातावरण में एक बेहतर प्रतिशत वोटिंग के साथ संपन्न हुआ। ललितपुर की दोनों विधानसभाओं में 72.38 प्रतिशत मतदान हुआ भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित चौथे चरण में झांसी-ललितपुर लोकसभा क्षेत्र में मतदान प्रक्रिया का आयोजन 29 अप्रैल को किया गया था। मतदान का प्रतिशत बढ़ाने एवं मतदाताओं को जागरूक करने के लिए जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह ने व्यापक स्तर पर तैयारियां की थी। जिलाधिकारी के नेतृत्व में मतदाता जागरूकता अभियान पूरे जनपद भर में चलाया गया। डीएम ने जहां एक ओर दिव्यांग मतदाताओं को बूथ आइकॉन बनाया तो वहीं लोगों को मतदान के लिए जागरूक करने के लिए तमाम प्रकार के नुक्कड़ नाटक और अन्य आयोजनों के जरिए जागरूक किया। इस जागरूकता का जीवन्त प्रमाण मतदान प्रक्रिया के दौरान देखने को मिला, जब युवाओं व वृद्धों ने कड़ी धूप के बावजूद भी अपने-अपने मतदान केन्द्रों पर जाकर अपने-अपने मतों का प्रयोग किया। बताते चलें कि झांसी ललितपुर संसदीय क्षेत्र-लोकसभा के चुनाव में ललितपुर विधानसभा में 474286 मैं से 330491 यानी 69.68 प्रतिशत मतदाताओं ने किया अपने मत का प्रयोग। तो वहीं महरौनी विधानसभा के 433241 मतदाताओं में से 326389 यानी 75.34 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया। वही पूरे जिले के 907527 मतदाताओं में से 656880 मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया। कुल मिलाकर ललितपुर की दोनों विधानसभाओं में 72.38 प्रतिशत मतदान हुआ संपन्न।