बुन्देलखण्ड ललितपुर

निर्वाचक नामावली पर राजनैतिक दलों से किया गया विचार-विमर्श

ललितपुर। भारत निर्वाचन आयोग नई दिल्ली एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी उत्तर प्रदेश के पत्रांक-2562/सीईओ-4-24/4-2018 दिनांक 27.11.2018 के निर्देशानुसार अर्हता तिथि-01.01.2019 के आधार पर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचक नामावलियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण-2019 के तहत दिनांक 30.11.2018 को अपराह्न-12.00 बजे जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में जनपद के समस्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ स्थान कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक आयोजित की गयी। जिलाधिकारी के निर्देशानुसार सर्वप्रथम सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी के द्वारा उपस्थित राजनैतिक दलों के उपस्थित प्रतिनिधियों को निर्वाचक नामावली के पुनरीक्षण अन्तर्गत प्राप्त दावे आपत्तियों एवं उनके निस्तारण से सम्बन्धित लिखित विवरण को हस्तगत कराया गया। बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी के द्वारा राजनैतिक दलों से विस्तृत विचार विमर्श किया गया एवं समस्त जिज्ञासाओं का बैठक में समाधान करते हुये निम्नलिखित दिशा निर्देश जारी किये गये। बैठक में उपस्थिति प्रतिनिधियों से अपने-अपने दलों के बी0एल0ए0 नियुक्त करने की अपील की गयी। अवगत कराया गया कि बहुजन समाज पार्टी के अतिरिक्त अभी तक अन्य किसी दल के द्वारा बी0एल0ए0 नियुक्त कर सूची निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध नही करायी गयी है। उपस्थित अन्य राजनैतिक दलों के द्वारा अपने बी0एल0ए0 शीघ्र नियुक्त करने का आश्वासन दिया गया। जिलाधिकारी द्वारा बैठक में उपस्थित समस्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को जनपद में मतदाता सूची के पुनरीक्षण कार्य के सम्बन्ध में जानकारी देते हुये बी0एल0ओ0 को पात्र व्यक्तियों के नाम परिवर्धन करने हेतु फार्म-6, मृतक/डुप्लीकेट/शिफ्टेड मतदाताओं के नाम विलोपन हेतु फार्म-7 एवं किसी प्रविष्टि आदि की शुद्धिकरण हेतु फार्म-8 उपलब्ध कराने के कार्य में सहयोग करने की अपील की गयी। मतदाता सूची में दर्ज मृतक/शिफ्टिेड एवं डुप्लीकेट नामों को हटवाये जाने में प्रतिनिधियों से सहयोग करने की अपील की गयी व तथा निर्वाचन में मतदाता सूची के महत्व को रेखांकित करते हुये अवगत कराया गया कि मतदाता सूची निर्वाचन की आधार शिला होती है तथा निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण मतदान कि लिये मतदाता सूची का शुद्धतम होना आवश्यक होता है।