झांसी

लोकतंत्र के प्रहरी हैं युवा मतदाता : मण्डलायुक्त

झांसी। किसी भी देश के युवा मतदाता ही लोकतन्त्र के प्रहरी होते है। लोकतन्त्र को भविष्य में अक्षुण्ण रखने का उत्तरदायित्व भी युवाओं के कंघें पर ही होता है। यह विचार मण्डलायुक्त  कुमुदलता श्रीवास्तव ने व्यक्त किये। बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के गांधी सभागार में चार मार्च को राष्ट्रीय सेवा योजना तथा अधिष्ठाता छात्र कल्याण के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित मतदाता जागरूकता काय्रक्रम सुनियोजित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचन सहभागिता (स्वीप) के अन्तर्गत आगामी लोकसभा चुनाव के संदर्भ में विश्वविद्यालय के युवा मतदाताओं को जागरूक कर स्वतन्त्र, निष्पक्ष एवं शान्पिूर्ण मतदान की शपथ दिलाते हुए मुख्य अतिथि के रूप में अपने विचार व्यक्त कर रही थी।
आयुक्त ने कहा कि यदि हमें लोकतंत्र को अक्षुण्ण एवं सशक्त बनाना है तो इसके लिए शत प्रतिशत मतदान आवश्यक है। उन्होंने उपस्थित युवा मतदाताओं का आव्हान करते हुए कहा कि वे स्वयं, अपने पारिवारिक जनों तथा अपने आसपास रहने वाले मतदाताओं को आगामी लोकसभा मतदान के लिए प्रेरित करें। शपथ ग्रहण समारोह की अध्यक्षता करते हुए बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. जे.वी.वैशम्पायन ने कहा कि सशक्त लोकतंत्र के लिए मतदाताओं में जागरूकता होना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हमारे देश में मतदाता मतदान के प्रति उदासीन होते गए जिससे मतदान का प्रतिशत कम होता चला गया जिसके परिणाम स्वरूप अयोग्य लोग भी बहुत ही कम प्रतिशत मत प्राप्त कर भी विधानसभाओं अथवा संसद के सदस्य बनने लगे। कुलपति ने कहा कि कुछ दक्षिणी राज्यों में मतदान का प्रतिशत 80 तक हो जाता है जबकि उत्तर प्रदेश तथा अन्य उत्तरी राज्यों में मतदान का प्रतिशत काफी कम रहता है। इस कार्यक्रम का प्रारंभ करते हुए बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक डा.मुन्ना तिवारी ने आमंत्रित अतिथियों का स्वागत करते हुए आज के कार्यक्रम की रूपरेखा प्रस्तुत की। कार्यक्रम का संचालन डा.मुहम्मद नईम ने किया। मंचासीन अतिथियों को पुष्प कलिका भेंटकर सम्मानित भी किया गया। इस अवसर पर झांसी के उपायुक्त उद्योग एवं झांसी मण्डल के स्वीप नोडल अधिकारी सुनील कुमार श्रीवास्तव, बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय के कुलसचिव नारायण प्रसाद, विश्वविद्यालय के अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो.देवेश निगम, राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त स्वीप की ब्राण्ड एंबेस्डर एवं समाजसेवी डा.नीति शास्त्री के अतिरिक्त प्रो.सुनील काबिया, प्रो.एस.के.कटियार, प्रो.एम.एम.सिंह, डा. डी.के.भट्ट, प्रो. प्रतीक अग्रवाल, डा. यतीन्द्र मिश्रा, डा. श्वेता पाण्डेय, डा. मोहम्मद नईम, डा. जितेंद्र बबेले, डा. उमेश कुमार, डा. मोहम्मद फुरकान मलिक व डा. अंकिता जैस्मिन लाल आदि उपस्थित रहे।मंडलायुक्त  कुमुदलता श्रीवास्तव ने सभी उपस्थित लोगों को लोकतन्त्र में अपनी पूर्ण आस्था रखते हुए स्वतन्त्र, निष्पक्ष एंव शान्तिपूर्ण मतदान की गरिमा की अक्षुण्ण रखते हुए निर्भीक होकर बिना किसी धर्म, जाति, समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रकार के प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना अपने मताधिकार का प्रयोग करने की शपथ दिलाई। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के ललित कला संस्थान के द्वारा एक मतदान जागरूकता पर आधरित एक चित्रकला एंव पोस्टर प्रतियेागिता का आयोजन भी किया गया। इसमे प्रथम स्थान अजय सिंह, गजेन्द्र सिंह ने तथा द्वितीय स्थान राजकुमार, अमित विश्वकर्मा एवं नन्दिनी कुशवाहा ने प्राप्त किया। मुख्य अतिथि तथा अन्य मंचासीन अतिथियों द्वारा उक्त सभी विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया गया।