बुन्देलखण्ड ललितपुर

सभी के सहयोग से रूक सकता है बालश्रम : बिजेन्द्र शर्मा

ललितपुर। असंगठित कर्मचारी यूनियन इंटक बी.डब्ल्यू.आई. के तत्वाधान में बाल श्रम को रोकने के लिए शिक्षा विभाग के साथ मिलकर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में मुख्य अतिथि के रूप में सहायक बेसिक शिक्षा अधिकारी जलील अहमद मौजूद रहे, जबकि अध्यक्षता अध्यक्ष बिजेन्द्र शर्मा ने की। इस अवसर पर मुख्य अतिथि सहायक बेसिक शिक्षा अधिकारी जलील अहमद ने कहा कि बाल श्रम रोकने के लिए शिक्षा अच्छा माध्यम है। शिक्षा के अधिकार के तहत गरीब बच्चों को अच्छे-अच्छे स्कूलों में प्रवेश दिया जा रहा है और जो भी छात्रायें किसी भी कारण से स्कूल छोड़ चुके हैं, उसे कस्तूरबा गांधी विद्यालय में प्रवेश दिलाया जा सकता है, जहां सभी सुविधायें छात्राओं को दी जाती हैं और वहां से छात्रायेंं बेहतर नागरिक बनकर निकलती हैं। विभाग द्वारा गांव-गांव, मोहल्ले-मोहल्ले में अध्यापक के जरिए पहुंच कर 6 से 14 वर्ष तक के बच्चों को चिह्नित कर विद्यालयों में प्रवेश कराया जाता है। सरकार की योजनाओं के अंतर्गत स्कूलों में जूते-मोजे, स्वेटर, ड्रेस, बैग, किताबें दी जाती हैं। इसके साथ-साथ बच्चों के पोषण का ध्यान रखा जाता है और मध्याह्न भोजन से बच्चों को पोषण मिलता है। इस अवसर पर बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष कैलाश अग्रवाल ने कहा कि बाल श्रम रोकने के लिए सर्वप्रथम अपना घर-परिवार से शुरू हो, फिर अन्य स्थानों पर बाल श्रम हो रहा है तो उसकी सूचना चाइल्ड लाइन हेल्प लाइन नम्बर 1098 और डायल 100 पर पुलिस को दी जा सकती है।