बुन्देलखण्ड ललितपुर

अटेवा ने शहादत दिवस मनाकर पुरानी पेंशन बहाली की मांग की

ललितपुर। आल टीचर्स एम्प्लाइज बेलफेयर एसोशिएशन अटेवा पुरानी पेंशन बचाओ मंच के प्रदेशीय आवाह्न पर 7 दिसम्बर को पूरे उत्तर प्रदेश के सभी विभागों के शिक्षक कर्मचारी पुरानी पेंशन बाहली की मांग करते हुए शहीद हुए शिक्षक डा.रामाशीष सिंह की प्रथम पुण्यतिथि शहादत दिवस के रूप में मनायी गयी। इसी क्रम में ललितपुर जनपद के सभी विभागों के शिक्षक कर्मचारी अपरान्ह से ही स्थानीय घण्टाघर पर मंडल प्रभारी धीरेंद्र जैन के नेतृत्व में अपने अपने हाथों में कैंडल लेकर एकत्रित होकर अपने शहीद शिक्षक साथी डा.रामाशीष सिंह को श्रद्धांजलि दी। अटेवा जिला प्रभारी इन्दर सिंह पटेल ने कहा कि हम अपने शिक्षक साथी के बलिदान को बेकार नहीं जाने देंगे और पुरानी पेंशन बहाल कराने तक आंदोलन को जारी रखेंगे चाहे इसके लिए हमें कोई भी कुर्बानी देने पड़े। पुष्पेंद्र कुमार जैन ने कहा कि जब तक पुरानी पेंशन बहाल नहीं हो जाती शिक्षक कर्मचारी आंदोलन करते रहेंगे और सरकार की दमन कारी नीतियों का पुरजोर विरोध करेंगे। महामंत्री परिबेश मालवीय ने कहा कि जब एक दिन के विद्यायक सांसद पुरानी पेंशन पाने के हकदार है तो फिर लगातार 30-35 वर्ष तक सेवाएं देने बाले शिक्षक कर्मचारी क्यों नहीं ? परशुराम निरंजन ने कहा कि पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा व केरल की सरकारें अपने शिक्षक कर्मचारियों को पुरानी पेंशन दे सकती है तो उत्तर प्रदेश सरकार क्यों नहीं। न्यू पेंशन स्कीम कर्मचारियों के साथ एक धोखा व छालबा है जिससे कर्मचारी का भविष्य अंधकार में है।