ललितपुर

भूमि स्वामियों की परिसम्पत्तियों का मुआवजा भूमि के साथ दिया जाये-मानवेन्द्र सिंह

ललितपुर।जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह द्वारा भावनी बांध परियोजना में भूमि अधिग्रहण में आ रही कठिनाईयों के निराकरण हेतु भावनी बांध पर बैठक आयोजित की गई। बैठक में भू-स्वामियों द्वारा भूमि अधिग्रहण से सम्बंधित अपनी समस्याओं को जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत किया गया। ग्रामीणों की समस्याओं को सुनते हुए जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता सिंचाई निर्माण खण्ड-प्रथम को निर्देशित करते हुए कहा कि भू-स्वामियों को परिसम्पत्ति (पेड़, कुआं, बंधी) का मुआवजा भी भूमि के साथ दिया जाये। इसके लिए कृषकों के समक्ष विवादित सम्पत्तियों के निराकरण हेतु एक समिति का गठन किया जाये, जिसमें तहसीलदार को शामिल कर नियमानुसार भुगतान कराया जाये। बैठक में कृषक शिवराज तनय दलपत द्वारा बताया गया कि उसकी डूब क्षेत्र की भूमि को वर्ष 2014 में क्रय किया गया था, अधिग्रहित भूमि पर बांध निर्माण के समय भूमि से मिट्टी की खुदाई की गई, जिससे कृषक की रोपी हुई फसल का नुकसान हो गया, जिस पर जिलाधिकारी द्वारा उक्त कृषक की बीज एवं जुताई का मुआवजा दिलाये जाने के निर्देश सम्बंधित अधिकारी को दिये गए। जिलाधिकारी ने कहा कि सिंचाई विभाग द्वारा आवश्यक भूमि को ही अधिग्रहीत किया जाये। उन्होंने कहा कि इस योजना में भू-स्वामियों को अपना पूर्ण सहयोग करना चाहिए, जिससे यह योजना अपने लक्ष्य स्तर पर फलीभूत हो सके। बैठक में उप जिलाधिकारी तालबेहट कृष्ण कुमार, अधिशासी अभियंता सिंचाई निर्माण खण्ड प्रथम नलिन वद्र्धन, तहसीलदार तालबेहट मनोज कुमार, ग्राम प्रधान भावनी रविन्द्र कुमार सहित राजस्व विभाग के अधिकारी/कर्मचारी तथा सम्बंधित काश्तकार उपस्थित रहे।